निज़ाम के 306 करोड़ पर भारत का अधिकार: ब्रिटिश न्यायालय

October 3, 2019 - krishana trivedi

No Comments

स्वतंत्रता के समय, हैदराबाद राज्य ने शुरू में भारत के साथ विलय करने से इनकार कर दिया था। इसलिए, सरदार पटेल के नेतृत्व में, भारत सरकार ने ‘ऑपरेशन पोलो’ के माध्यम से हैदराबाद को भारत में वापस भेज दिया। नवाब मीर उस्मान अली खान सिद्दीकी ने पाकिस्तान की मदद से उस समय अपनी संपत्ति सुरक्षित करने के लिए लंदन के ‘नैटवेस्ट’ बैंक में 1 मिलियन पाउंड की राशि जमा की। पाकिस्तान ने उस पर 1948 में अपना अधिकार बताया फिर 1954 में अदालत में मुकदमा चलाया गया। तब से लेकर आज तक यह मामला लंदन की एक अदालत में चल रहा था। अब उनका फैसला आ गया है। सत्तारूढ़ के अनुसार, पाकिस्तान के पास राशि का कोई दावा नहीं है। यह राशी भारत के मीर के वंशजो की हें।


Fatal error: Out of memory (allocated 2097152) (tried to allocate 8192 bytes) in C:\xampp\htdocs\wp-includes\wp-db.php on line 1995