डराते-डराते हंसाती भी है ‘स्त्री’, राजकुमार राव की बेहतरीन एक्टिंग

August 31, 2018 - Anchal Chaturvedi

No Comments

कहानी: इसी वजह से उसे चंदेरी का मनीष मल्होत्रा कहा जाता है। विक्की के अलावा चंदेरी में स्त्री नाम की एक चुड़ैल के चलते फेमस है। ये चुड़ैल घर का दरवाजा खटखटाती है और आदमियों को उठा ले जाती है।

 

एक्टिंग: राज कुमार राव ने हमेशा की तरह फिल्म में बेहतरीन एक्टिंग की है। विक्की का कैरेक्टर में वे इस तरह घुसे हैं जैसे सालों से चंदेरी में ही रहते आ रहे हों। रूद्र के कैरेक्टर में पंकज त्रिपाठी ने भी अपने रोल के साथ पूरा न्याय किया है। रूद्र फिल्म में एक बुक शॉपकीपर और हाफ भूत एक्सपर्ट के रोल में हैं। वहीं दोस्त बनें अपारशक्ति खुराना और अभिषेक बनर्जी ने राजकुमार राव को शानदार सपोर्ट किया है। श्रद्धा कपूर फिल्म के काफी खूबसूरत दिखी हैं। फिल्म में बैकग्राउंड स्कोर देने वाले केतन सोधा और एडिटिंग करने वाले हेमंत सरकार ने बेहतरीन काम किया है। इस लिहाज से देखा जाए तो स्त्री को आप एक बार देख सकते हैं।

 

रिव्यू: हॉरर के साथ-साथ कॉमेडी का मिक्सचर देना इतना आसान नहीं था इसे अमर कौशिक ने बखूबी संभाला है। इसका थोड़ा क्रेडिट राइटर राज और डीके को भी जाता है। साथ ही सुमित रॉय ने फिल्म के लिए बेहद ही फनी डायलॉग्स लिखे हैं और इसे स्टारकास्ट ने बेहद शानदार तरीके से रिप्रजेंट किया है। फिल्म में कुछ क्लासिक सीन्स भी हैं जिसमें एक पंकज त्रिपाठी और अपारशक्ति खुराना के बीच तो दूसरा विक्की और उसके पापा के बीच फिल्माया गया है। देखा जाए तो फर्स्ट हाफ पूरा कॉमेडी से भरा हुआ

Anchal Chaturvedi

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *